करीना ऋतिक रोशन

करीना ऋतिक रोशन

time:2021-10-28 04:05:58 नियमित आमदनी के लिए इन पांच विकल्प में निवेश कर सकते हैं सीनियर सिटीजन Views:4591

क्रिकेट जर्सी नंबर करीना ऋतिक रोशन betway केन्या न्यूनतम निकासी,लियोवेगास अब,lovebet 65 होम,lovebet जर्सी की कीमत,lovebet ट्विटर,365 नवीनतम पता,बैकारेट सट्टेबाजी विधि,baccarat उच्चारण,wbchse . के लिए बेस्ट ऑफ फाइव रूल,क्या बैकारेट बहुत पैसा कमा सकता है,कैसीनो एनएसडब्ल्यू बिन दिन,शतरंज पी एनपी,क्रिकेट कोर्ट वैडिंग रिवर,डी शतरंज का खेल डाउनलोड,यूरोपीय कप फुटबॉल मैच आज,फुटबॉल कवरेज,जुआ मशीन से पता चला,खुश किसान रवीन्तोला,इंडियाबेट विकी,जैकपॉट फिल्म तमिल,नवीनतम फुटबॉल समाचार,लाइव रूले aspers,लॉटरी नंबर 8991,एम.लवबेट.के,ऑनलाइन कैसीनो मुफ्त बोनस कोई जमा नहीं,ऑनलाइन गेम जुमा,ऑनलाइन स्लॉट reddit,पोकर 7 कार्ड ड्रा,पोकरदंगल,रूले टेबल नियम,रम्मी जोकर छवियां,हाल के फुटबॉल मैचों की अनुसूची,स्लॉट एन सामान नकली,एक ही नाम की खेल टीमें,तीन पत्ती ऑनलाइन गेम,सबसे आधिकारिक फ़ुटबॉल सट्टेबाजी स्टेशन,वर्चुअल क्रिकेट स्टेडियम,विलियम हिल का ऑड्स सिस्टम,x स्टेटस,कैंडी में विस्फोट हुआ,खेल लॉटरी mp,जोकर इमेजेज,पोकर फेस मीनिंग इन हिंदी,बेटा आ जाओ,रेलवे स्पोर्ट्स कोटा भर्ती 2020,स्टेटस राई, .नियमित आमदनी के लिए इन पांच विकल्प में निवेश कर सकते हैं सीनियर सिटीजन

घटते ब्याज दरों के इस दौर में नियमित आय के विकल्प कम हुए हैं.
घटते ब्याज दरों के इस दौर में नियमित आय के विकल्प कम हुए हैं. बहुत से निवेशक अपनी पूंजी पर नियमित आय के विकल्प ढूंढते रहते हैं. पिछले कुछ समय से घटते ब्याज दरों वाले दौर में उन पर बहुत अधिक असर पड़ा है.

इस समय जब देश के शीर्ष बैंक सीनियर सिटीजन को पांच-छह साल के फिक्स डिपॉजिट पर अधिकतम 6 फ़ीसदी का ब्याज दे रहे हैं, तुलनात्मक रूप से पोस्ट ऑफिस छोटी बचत योजना पर ब्याज दरें अधिक हैं.

इसे भी पढ़ें: मार्च 2021 में आईआईपी में कमजोरी, खुदरा महंगाई बढ़कर 5.5 फीसदी पर पहुंची

निवेश जगत के जानकारों का हालांकि मानना है कि छोटी बचत पर ब्याज दरें बहुत लंबे समय तक कायम रहने वाली नहीं है. सरकार समय-समय पर इन ब्याज दरों में कटौती करती रहती है. अप्रैल-जून तिमाही के लिए हालांकि सरकार ने पहले ब्याज दरों में कमी की थी लेकिन बाद में उस फैसले को वापस ले लिया गया.

इस माहौल में हम सीनियर सिटीजन के लिए निवेश के पांच ऐसे विकल्प बता रहे हैं जिससे उनकी मेहनत की कमाई पर अच्छी नियमित आय आती रहे.

1. सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम (एससीएसएस)
वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (एससीएसएस) एक सरकार समर्थित बचत योजना है. यह 60 साल से अधिक उम्र के भारत के निवासियों के लिए शुरू की गई है. एससीएसएस में खाता खोलने की तारीख से 5 साल के बाद जमा राशि मैच्योर होती है. इसके बाद यह अवधि एक बार अतिरिक्त 3 साल के लिए बढाई जा सकती है.

अप्रैल-जून 2021 के लिए एससीएसएस पर ब्याज़ दर 7.4% निर्धारित की गई है. भारत में छोटी बचत योजनाओं में यह उच्चतम ब्याज़ दर है. एससीएसएस में खाता सार्वजनिक/निजी क्षेत्र के बैंकों और भारत के डाकघरों के माध्यम से खोला जा सकता है. एससीएसएस में अधिकतम 15 लाख रुपये का निवेश किया जा सकता है.

वरिष्ठ नागरिक बचत योजना खाते में किए गए निवेश पर आयकर कानून 1961 के सेक्शन 80 C के तहत आयकर कटौती का लाभ मिलता है .

2. पोस्ट ऑफिस मासिक बचत योजना (पीओएमआईएस)
डाकघर मासिक आय योजना (पीओएमआईएस) सीनियर सिटीजन के लिए निवेश का सही विकल्प है. मासिक आय योजना (एमआईएस) केन्द्रीय संचार मंत्रालय के तहत चलाई जाने वाली एक निवेश योजना है. डाकघर मासिक आय योजना (पीओएमआईएस) एफडी की तुलना में ज्यादा रिटर्न देता है.

पीओएमआईएस से आपको एक निश्चित मासिक आय होती है. पीओएमआईएस में आप न्यूनतम 1500 रुपये हर महीने जमा करके निवेश शुरू कर सकते हैं. डाकघर मासिक आय योजना (पीओएमआईएस) पर इस समय 6.6 फीसदी सालाना ब्याज मिलता है.

डाकघर मासिक आय योजना (पीओएमआईएस) के लिए परिपक्वता अवधि 5 वर्ष है. इस स्कीम में आप अधिकतम 9 लाख रुपये ही निवेश कर सकते हैं. अगर आप डाकघर मासिक आय योजना (पीओएमआईएस) में अपनी पत्नी या बच्चों के साथ ज्वाइंट अकाउंट खोलते हैं तो भी 9 लाख रुपये तक ही निवेश कर सकते हैं.

3. पीएम वय वंदन योजना (पीएमवीवीवाई)
पीएमवीवीवाई वरिष्ठ नागरिकों के लिए एक सामाजिक सुरक्षा योजना है. पीएमवीवीवाई को संचालित करने के लिए एलआईसी पूरी तरह अधिकृत संस्था है. यह योजना एक नॉन-लिंक्ड, नॉन-पार्टिसिपेटिंग पेंशन स्कीम है. इस योजना में भारत सरकार ने सब्सिडी दी है.

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना सीनियर सिटीजन के लिए उपलब्ध पेंशन स्कीम है. मासिक पेंशन का विकल्प चुनने पर वरिष्ठ नागिरकों को स्कीम में 10 साल तक एक तय दर से गारंटीशुदा पेंशन मिलती है. यह स्कीम डेथ बेनिफिट की भी पेशकश करती है. इसके तहत नॉमिनी को खरीद मूल्य वापस किया जाता है. पीएमवीवीवाई में अब अधिकतम 7.75 फीसदी ब्याज की सीमा तय कर दी गई है.

पीएमवीवीवाई में 60 वर्ष या इससे अधिक के सीनियर सिटीजन निवेश कर सकते हैं. अधिकतम उम्र की सीमा नहीं है. एक व्यक्ति अधिकतम 15 लाख रुपये स्कीम में निवेश कर सकता है.

4. फ्लोटिंग रेट सेविंग बांड (एफआरएसबी)
फ्लोटिंग रेट सेविंग बॉन्ड 2020 में सीनियर सिटीजन 7 साल के लिए निवेश कर सकते हैं. हर 6 महीने में इस स्कीम में ब्याज दरें बदलती हैं और यह नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट पर दिए जाने वाले ब्याज दर के अलावा 35 बेसिस प्वाइंट जोड़कर दिया जाता है. 1 जनवरी और 1 जुलाई को साल में दो बार फ्लोटिंग रेट सेविंग बांड पर ब्याज दिया जाता है. इस समय एफआरएसबी में 7.15 फीसदी ब्याज दिया जा रहा है. इस स्कीम के साथ एक दिक्कत वाली बात यह है कि निवेशक के हाथ में आने पर इसके ब्याज पर आपको टैक्स चुकाना पड़ता है. इस स्कीम में ऊपरी निवेश की कोई सीमा नहीं है.

5. बैंक फिक्स्ड डिपाजिट
नियमित आय चाहने वाले निवेशकों के लिए बैंक फिक्स डिपाजिट हमेशा से एक लोकप्रिय विकल्प रहा है. पिछले कुछ वक्त में बैंक फिक्स डिपाजिट का आकर्षण घटा है क्योंकि ब्याज दरों में लगातार कमी आ रही है. बैंक में फिक्स डिपॉजिट कर सीनियर सिटीजन अपने हाथ में आने वाली रकम की फ्रीक्वेंसी पहले से ही तय कर सकते हैं.

वह मासिक निकासी चाहते हैं या तिमाही, छमाही निकासी चाहते हैं या सालाना, यह सब पहले से तय किया जा सकता है. इस समय अधिकतर बैंक 5 से 10 साल की अवधि के लिए सीनियर सिटीजन को फिक्स डिपॉजिट पर छह फीसदी ब्याज देते हैं. कुछ स्मॉल फाइनेंस बैंक और कोऑपरेटिव बैंक सीनियर सिटीजन को फिक्स डिपॉजिट करने पर 7 फ़ीसदी से अधिक का ब्याज दे रहे हैं.

इसे भी पढ़ें: कोरोना टीका लगाने के बाद आपको एफडी पर मिलेगा अधिक ब्याज!

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें

टॉपिक

नियमित आयनिवेशबुजुर्गरेगुलर इनकमसीनियर सिटीजन

ETPrime stories of the day

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis
Logistics

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis

4 mins read
China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.
R&D

China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.

9 mins read
As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles
Insurance

As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles

11 mins read

पहले चरण में 31,277 को जिलों का आवंटन हो गया है. इसमें से 15,933 टीचर सामान्‍य कैटेगरी के हैं. 8,513 अन्‍य पिछड़ा वर्ग, 6,615 अनुसूचित जाति और 215 अनुसूचित जनजाति के हैं.प्राइम इंवेस्टर ने निवेशकों को फ्रैंकलिन टेम्पलटन म्यूचुअल फंड की सभी स्कीमों से निकासी करने की सलाह दी है. प्राइम इंवेस्टर चेन्नई की एक स्वतंत्र रिसर्च फर्म है.इंफोसिस के कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, नए साल से बढ़ेगा वेतन

पहले चरण में 31,277 को जिलों का आवंटन हो गया है. इसमें से 15,933 टीचर सामान्‍य कैटेगरी के हैं. 8,513 अन्‍य पिछड़ा वर्ग, 6,615 अनुसूचित जाति और 215 अनुसूचित जनजाति के हैं.जून में कर्मचारी राज्‍य बीमा स्‍कीम (ईएसआईसी) से जुड़ने वाले मेंबर्स की संख्‍या में भी तेज इजाफा हुआ है.इंटरनेशनल फंड के बारे में जानिए अपने हर सवाल का जवाब

अधिकतर निवेशक इक्विटी फंड्स में निवेश करने के लिए सिस्टेमैटिक इंवेस्टमेंट प्लान (सिप) को तरजीह देते हैं. हाल के समय में सिप को बहुत अधिक लोकप्रियता मिली है.रिपोर्ट में कहा गया है कि अनलॉक उपायों के बाद आवाजाही में सुधार से रियल एस्टेट क्षेत्र में नियुक्ति गतिविधियां 44 फीसदी सुधरी हैं.एक्सिस बैंक ने कर्मचारियों का वेतन 12% तक बढ़ाया

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
स्पोर्ट्स दा सॉर्टे

कोरोना वायरस महामारी के चलते लागू किए गए लॉकडाउन के कारण विभिन्न क्षेत्रों में छंटनी, वेतन में कटौती या कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी रुक गई है. हालांकि, कई बड़े निजी क्षेत्र के बैंकों ने कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी की है.

गोवा बाली बीच

बाजार नियामक सेबी ने एक्सपेंस रेशियो की सीमा तय की हुई है. ओपन एंडेड इक्विटी स्कीम के एयूएम के आधार पर सेबी ने विभिन्न स्‍लैब बनाए हैं.

रम्मी भाई

यूनिट लिंक्ड इंश्‍योरेंस प्‍लान यानी यूलिप और म्यूचुअल फंड कई मायनों में अलग होते हैं. यह और बात है कि कई लोग इन्‍हें एक जैसा प्रोडक्ट समझने की भूल कर बैठते हैं. आपको भी अगर ऐसी गलतफहमी है तो यहां हम इन दोनों के बीच कुछ महत्वपूर्ण अंतरों के बारे में बता रहे हैं.

क्रिकेट sharechat

जून में कर्मचारी राज्‍य बीमा स्‍कीम (ईएसआईसी) से जुड़ने वाले मेंबर्स की संख्‍या में भी तेज इजाफा हुआ है.

लूडो किंग हैक

कोरोना वायरस महामारी के चलते लागू किए गए लॉकडाउन के कारण विभिन्न क्षेत्रों में छंटनी, वेतन में कटौती या कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी रुक गई है. हालांकि, कई बड़े निजी क्षेत्र के बैंकों ने कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी की है.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी